रोज सुबह खाएं भीगे हुए चने, एनर्जी बढ़ाने के साथ दिखेंगे कई चमत्कारिक फायदे

आयुर्वेद में चने की दाल और चने को शरीर के लिए स्वास्थवर्धक बताया गया है। चने के सेवन से कई रोग ठीक हो जाते हैं। इसमें कई सारे प्रोटीन और विटामिन्स पाये जाते हैं। चना दूसरी दालों के मुकाबले सस्ता होता है और सेहत के लिए भी यह दूसरी दालों से पौष्टिक आहार है। आयुर्वेदाचार्य नवीन नायक के अनुसार चना शरीर को बीमारियों से लड़ने में सक्षम बनाता है। साथ ही यह दिमाग को तेज और चेहरे को सुंदर बनाता है। चने के सबसे अधिक फायदे इन्हे अंकुरित करके खाने से होते है।

चने के फायदे

अगर आप अक्सर थकान महसूस करते हैं और शरीर में एनर्जी की कमी महसूस करते हैं तो इसके लिए भीगे चनों में नींबू, अदरक के टुकड़े, नमक और काली मिर्च डालकर सुबह नाश्ते में खाएं। ऐसा करने से आपके शरीर की ताकत बढ़ेगी और आप पूरे दिन एनर्जेटिक महसूस करेंगे।

भीगा चना पाचन तंत्र को भी मजबूत बनाता है। दरअसल भीगे हुए चने में फाइबर की मात्रा पाई जाती है। फाइबर मुख्य रूप से भोजन को पचाने का काम करता है। भीगे हुए चने खाने से पाचन तंत्र भी मजबूत होता है। चना आंखों के लिए भी बेहद फायदेमंद है, क्योंकि इसमें बी-कैरोटीन तत्व पाया जाता है। यह तत्व मुख्य रूप से आंखों की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचने से बचाता है, जिससे आंख की देखने की क्षमता स्वस्थ बनी रहेगी।

अगर आपको पेट से जुड़ी कोई परेशानी है जैसे पेट में दर्द, गैस, एसिडिटी तो आप सुबह खाली पेट भीगे हुए चने का सेवन कर सकते हैं इससे आपको पेट से जुड़ी कई परेशानियों में लाभ मिल सकता है। चने में काफी मात्रा में विटामिन, मिनरल्स, फास्फोरस पाया जाता है। जो शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने में लाभदायक होते हैं। सुबह खाली पेट भीगे हुए चने खाने से आप बार-बार बीमार होने से बच सकते हैं।

गर्भवती महिला के लिए भी काबुली चना के फायदे देखे गए हैं। इसका सबसे बड़ा कारण है, इसमें फोलेट का मौजूद होना। यह एक आवश्यक विटामिन-बी है, जो मां और भ्रूण दोनों के स्वास्थ्य के लिए जरूरी है। गर्भावस्था के पहले और गर्भावस्था के दौरान पर्याप्त फोलिक एसिड बच्चे के मस्तिष्क या रीढ़ से जुड़े जन्म दोषों को रोकने में मदद करता है।

मोटापे से निजात पाने में भी ये काफी सहयोगी साबित होता है। ऐसे में भीगे चने खाने से होने वाले फायदों के बारे में जानना आपके लिए भी फायदेमंद साबित हो सकता है।

रात को चीनी मिट्टी के बर्तन में भिगोए गए चनों का सुबह सेवन करना, पुरूषों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इससे शरीर की कमजोरी दूर होने के साथ ही अन्य समस्याएं भी समाप्त होती हैं। इसके साथ दूध का सेवन भी कि‍या जा सकता है और भीगे हुए चनों के पानी में शहद मिलाकर पीने से पुरुषत्व में वृद्धि‍ होती है।

रोजाना नाश्ते में या दोपहर के खाने से पहले 50 ग्राम भुने हुए चने यदि आप खाते हैं तो इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा होता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने से आप बहुत से बीमारियों से तो बचते ही हैं, साथ ही इससे आपको मौसम बदलने पर अक्सर होने वाली शारीरिक परेशानियां भी नहीं होती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *